Selfie का शौक ले रहा है जान, दुनियाभर में हुई मौतों में आधे से ज्यादा भारतीय

selfie death statistics india leads dangerous hobby

Selfie एक ऐसा शब्द है जिससे छोटे बच्चे से लेकर बड़े बुजुर्ग लोग भी वाकिफ़ है। स्मार्टफोन बाजार इस Selfie के दमपर काफी फल-फूल रहा है। Selfie को परफेक्ट बनाने के लिए टेक ब्रांड एक से बढ़कर एक कैमरे वाले स्मार्टफोन बाजार में ला रहे हैं। अधिक मेगापिक्सल और शानदार फिल्टर्स वाले स्मार्टफोंस ने सेल्फी की सनसनी को और हवा दी है। Selfie का शौक लोगों के सिर इस कदर चढ़ा है कि परफेक्ट सेल्फी के चक्कर मेें लोग न सिर्फ हादसे का शिकार हुए हैं बल्कि सेल्फी के शौकिन्स को जान से भी हाथ धोना पड़ा है।

सेल्फी के ऐसे शौक पर एक सनसनीखेज़ रिपोर्ट हाल ही में सामने आई है जिसमें बताया गया है कि सेल्फी किस कदर लोगों की जान की दुश्मन भी बन रही है। इंडियन जनरल ऑफ फैमिली मेडिसन एंड प्राइमरी केयर ने Selfie से हुई मौतों पर एक अपनी रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा किया है कि सेल्फी खींचने के दौरान पूरी दुनिया में मरे लोगों में सबसे ज्यादा लोग भारत देश के ही हैं।

मरने वालों में सबसे ज्यादा भारतीय

Selfie से जुड़ी इस रिपोर्ट में अक्टूबर 2011 से लेकर नवंबर 2017 तक के आकंड़े शेयर किए गए हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि इस समयावधि में दुनियाभार में सेल्फी लेने के दौरान 259 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है। आपको जानकार हैरानी होगी कि इन 259 लोगों में से 159 लोग सिर्फ इंडिया में मरे हैं। यानि सेल्फी खींचने के दौरान हादसे का शिकार हुए लोगों में आधे से ज्यादा मौतें भारत में हुई है।

selfie death statistics india leads dangerous hobby

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 2011 से 2017 के दौरान शार्क मछली के हमले से मरने वाले लोगों की गिनती 50 थी। यानि शार्क से पांच गुणा ज्यादा लोग सेल्फी के मरे हैं। रिपोर्ट में ‘सेल्फी’ को ‘शार्क’ से भी ज्यादा खतरनाक कहा गया है। 259 में से 159 लोग जहां सिर्फ भारत में मरे हैं वहीं सेल्फी लेते वक्त रूस में 16 लोगों की मौत हुई है तथा अमेरिका में 14 लोगों को सेल्फी के शौक की वजह से जान से हाथ धोना पड़ा है।

पुरूष हुए सबसे ज्यादा शिकार

Selfie लेने का शौक सबसे ज्यादा महिलाएं रखती है, इसके कोई दो राय नहीं। लेकिन सेल्फी लेने के दौरान हादसों को शिकार होने में पुरूष ज्यादा है। रिपोर्ट में बताया गया है कि सेल्फी खींचने की वजह से सबसे ज्यादा मौतें पुरूषों की ही हुई है और इनमें लगभग तीन चौथाई युवा हैं। सेल्फी को बेहतर लेने के चक्कर में हुई इन मौतों में डूबने और उंचाई से गिरने के केस सबसे ज्यादा सामने आए हैं। यहां तक कि भारत में सेल्फी खींचने के दौरान गोली लगने से भी मौत हो चुकी है। दुखद है कि मौजूदा समय में TikTok यूज़ की वजह से ऐसी दुर्घटनाओं को और भी बढ़ावा मिल रहा है।

selfie death statistics india leads dangerous hobby

आपको बता दें कि सेल्फी के इस खतरे को भांपते हुए देश के कई शहरों में नो सेल्फी ज़ोन भी बनाया गया है। मायानगरी मुंबई में ही 16 ऐसे जोन है जहां सेल्फी लेना सख्ती से मना है। अंत में आपको यह भी बता दें कि इन समय 1.3 अरब की आबादी वाले भारत देश में 1.170 बिलियन यानि कि 100 करोड़ से भी ज्यादा मोबाइल सब्सक्राइबर है।

LEAVE A REPLY