अब घर बैठे आधार कार्ड से जोड़ सकेंगे अपना मोबाईल नंबर, जानें कैसे

मोबाईल नंबर से आधार कार्ड जोड़ने की कवायद देश के कई महीनों से चल रही है। लोगों के फोन पर मोबाईल नंबर को आधार कार्ड के जोड़ने के मैसेज भी भेजे जा रहे है। इस प्रक्रिया के लिए किसी भी मोबाईल यूजर को नजदीकी कंपनी के स्टोर पर जाने के लिए कहा जा रहा है। अब युवाओं के लिए तो यह ठीक है लेकिन घर में रहनी वाली महिलाओं तथा प्रौढ़ व बुर्जुग लोगों के लिए यह किसी झमेले से कम नहीं। लेकिन अब सरकार ने इसे आसान बनाते हुए तीन नए रास्ते खोज़ निकाले हैं जिसके बाद घर बैठे आपने मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ पाएंगे।

सिर्फ 69 रुपये में वोडाफोन यूजर कर सकेंगे पूरे देश में अनलिमिटेड कॉल

केंद्रीय संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने अपने वक्तव्य में कहा है कि हर घर के प्रत्येक व्याक्ति के मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ा जा सके इसके लिए सरकार नंबर जोड़ने की प्रक्रिया आसान करने जा रही है। अब अपने नंबर को आधार से जोड़ने के लिए मोबाइल ऑपरेटर के आउटलेट स्टोर पर जाकर लाईन में लगने की जरूरत नहीं रहेगी, बल्कि लोग स्वयं ही घर बैठे अपने मोबाईल नंबर को आधार से जोड़ पाएंगे।

aadhar-card-app

दूरसंचार विभाग की ओर से तीन तरीकें सुझाए गए हैं :

1. वन टाईम पासवर्ड (ओटीपी)
ओटीपी के जरिए अपने मोबाईल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ने के लिए सरकार द्वारा एक टोल फ्री नंबर जारी किया जाएगा। इस नंबर पर आपको आपना 12 अंको का आधार नंबर मैसेज करना होगा जिसके बाद आधार डाटाबेस से आपके नंबर पर ओटीपी आएगा और आपको बताई जाने वाली प्रक्रिया फॉलो करनी है।

6जीबी रैम के साथ सामनें आया सैमसंग गैलेक्सी ए7 (2018)

2. ऐप आधारित लिंक
आधार ​कार्ड विभाग की ओर से यूआईडीएआई ऐप पर मोबाईल नंबर लिंक करने की विडों भी लाई जाएगी। यहां आपकी अपनी आधार डिटेल्स और मोबाईल नंबर भरने के साथ ही कुछ आवश्यक पूछी हुई जानकारी देती होगी, जिसके बाद अपनी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

शाओमी 2 नवंबर को भारत में लॉन्च करेगी नई स्मार्टफोन सीरीज़

3. इंटरेक्टिव वॉयस रिस्पांस (आईवीआर)
आईवीआर के जरिये भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा नंबर जारी किया जाएगा, जिस पर आप अपनी आधार डिटेल्स बता कर अपना मोबाईल नंबर कार्ड से जोड़ पाएंगे। उम्मीद है कि भारत सरकार इस आईवीआर सर्विस को कई क्षेत्रिय भाषाओं में जारी करें।

सरकार द्वारा ये तरीके पेश किए जाने के बाद ऐसे लोग जो किसी ​स्टोर तक जानें में सक्षम नहीं है उन्हें बड़ी राहत मिलेगी तथा लोगों को इस प्रक्रिया के लिए अलग से कोई समय भी नहीं निकालना पड़ेगा।