TikTok से बैन हटा: फिर से हुआ फोन में डाउनलोड के लिए उपलब्ध

how to delete your tiktok account and personal data know full steps

TikTok एक ऐसा नाम है जिसका पता लगभग सभी युवाओं को है, फिर बेशक वह इस ऐप का यूज़ करते हो या न ​भी करते हैं। यह प्रसिद्ध वीडियो ऐप है तो चीनी लेकिन चीन से ज्यादा हमारे इंडिया में फेमस है। पिछले दिनों मद्रास हाईकोर्ट ने इस ऐप के चलन पर आपत्ति जताई थी और TikTok पर ​अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट से इसे बैक करने की मांग की थी। इस विवाद के बाद एप्पल और गूगल ने इसे अपने ऐप्लिकेशन प्लेटफार्म से हटा लिया था। लेकिन आज TikTok यूजर्स के लिए खुशी की खबर आई है कि कोर्ट ने इस ऐप पर लगे बैन को हटा लिया है। व

TikTok बनाने वाली कंपनी ही नहीं बल्कि इंडिया में मौजूद टिकटॉक के लाखों फैन्स के लिए भी यह खबर बेहद खुशी लेकर आई है। पिछले कई दिनों के विवादों में घिरी इस वीडियो मेकिंग ऐप को हरी झंडी दिखा दी गई है और मद्रास हाईकोट ने ऐप पर लगे बैन को ​हटाने का फैसला ले लिया है। बैन के बाद आईफोन के एप्पल ऐप स्टोर तथा एंडरॉयड फोन के गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध हो चुका है।

tik tok ban download lifted india madras high court

आपको बता दें कि पिछले कुछ समय में TikTok के लिए इंडिया बहुत बड़ा बाजार बनकर उभरा है। आपको जानकार हैरानी होगी कि देश में TikTok बैन होने से इस चीनी कंपनी को हर एक दिन में $500,000 यूएस डॉलर यानि तकरीबन 3.5 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा रहा था।

वहीं साथ इस ऐप को बनाने वाली कंपनी शंघाई बाइटडांस टेक्नोलॉजी ने यह बयान तक दे दिया था कि इंडिया में TikTok बैन होने से 250 से ज्यादा नौकरियां खत्म होने वाली है। कंपनी ने मुताबिक भारत में TikTok के 300 मिलियन से ज्यादा यूजर हैं।

पिछले दिनों TikTok पर बैन की मांग करने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट को ऑर्डर देकर इस ऐप पर फाइनल वर्डिक्ट देने को कहा था। इस ऑर्डर में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि यदि मद्रास हाईकोर्ट यह तय करने में फेल होता है कि TikTok पर बैन संवेधानिक रुप से क्यो जायज़ है तो इस एप पर से बैन हटा लिया जाएगा।

tik tok ban download lifted india madras high court

वहीं दूसरी ओर TikTok बैन के बाद इसकी पेरेंट कंपनी बाइटडांस टेक्नोलॉजी ने यह तक कह दिया था कि टिकटॉक को हटाने से इंडिया में फ्रीडम ऑफ स्पीच को नुकसान होगा। यह बयान देने के साथ ही कंपनी ने TikTok पर से ऐसे 60 लाख वीडियोज़ हटाने का दावा भी किया था जो उन्हें कम्यूनिटी गाइडलाइन के विपरीत दिखे थे।

बता दें कि इस साल की पहली तिमाही में TikTok दुनिया भर में तीसरा ​सबसे ज्यादा इंस्टॉल किया जाने वाला ऐप बना था। TikTok ने मार्च तिमाही में पूरी दुनिया में 18.8 करोड़ नए यूजर जोड़े ​थे, जिसमें भारत की हिस्सेदारी 8.86 करोड़ यूजर्स की थी।

LEAVE A REPLY