TikTok लवर्स की आखिरी उम्मीद पर भी लगा ग्रहण, इंडिया कमबैक के दरवाजे हुए बंद

how to delete your tiktok account and personal data know full steps

भारत सरकार ने 59 चीनी-मूल ऐप्स पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया है, जिनमें टिक्कॉक, वीचैट, यूसी ब्राउज़र और कई दूसरे ऐप्स शामिल हैं। पिछले साल जून 2020 में इन ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया गया था। लेकिन, बैन होने के बाद काफी समय से ऐसी रिपोर्ट्स सामने आ रहीं थीं कि इंडिया में पॉप्यूलर रहे शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप TikTok की वापसी हो सकती है। लेकिन, अब सामने आई खबर ने TikTok लवर्स की आखिरी उम्मीद भी खत्म कर दी है।

ऐसा प्रतीत होता है कि इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (मीटवाई) अपने डेटा सुरक्षा कानूनों के बारे में उक्त ऐप्स के डेवलपर्स द्वारा दी गई प्रतिक्रिया से संतुष्ट नहीं था। भारत में हमेशा के लिए बैन हुए पॉप्युलर चाइनीज ऐप TikTok के बाद PUBG को लेकर खबरों का बाजार गर्म है कि क्या पबजी मोबाइल कमबैक कर पाएगा। हालांकि, सरकार ने PUBG Mobile India को मंजूरी देने से बीते दिनों इनकार कर दिया था। लेकिन, फिर भी काफी दिनों से इस प्रकार की खबर सामने आ रही है कि कंपनी जल्द एक बार फिर कमबैक कर सकती है।

tiktok removed from android google play store apple chinese apps ban in india

रॉयटर्स की रिपोर्ट में बताया गया है कि TikTok की मूल कंपनी बाइटडांस की योजना अपने भारतीय कर्मचारियों की संख्या में जल्द ही कटौती करने की है। कंपनी ने The Wire वेबसाइट को बयान दिया है कि हमें शुरू में उम्मीद थी कि यह स्थिति जल्द ठीक हो जाएगी। लेकिन, अगर हमारे ऐप्स अन-ऑपरेशनल रहते हैं, तो हम सभी कर्मचारियों की जिम्मेदारी नहीं ले सकते। हमें नहीं पता कि हम भारत में कब वापसी करेंगे।

all-chinese-app-ban-in-india-full-list

इसलिए हमेशा के लिए बैन हुए ऐप्स

गौरतलब है कि Ministry of Electronics and Information Technology (MeitY) की रिपोर्ट में बताया गया था कि भारत में बीते जून सबसे पहले जिन 59 चाइनीज ऐप्स को बैन किया गया था, उन्हें अब पूरी तरह बैन कर दिया गया है।

208 चीनी ऐप्स पर लग चुका है बैन

सरकार द्वारा अब तक कुल 208 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया गया है। यह देखना दिलचस्प होगा कि बाकी ऐप्स शुरुआती 59 की तरह ही हमेशा के लिए बैन होते हैं या नहीं।

google-microsoft-invest-100-million-dollars-in-josh-app
10 करोड़ से ज्यादा थे यूजर्स

आपको याद दिला दें कि टिकटॉक के भारत में 10 करोड़ से ज्यादा यूजर्स थे और इनमें हजारों लोगों को टिकटॉक से कमाई भी होती थी। वहीं, पबजी के भी भारत में लाखों दीवाने थे, लेकिन बैन होने के महीनों बाद हाल ही में मेड इन इंडिया FAU:G गेम को पेश किया गया है।

LEAVE A REPLY