आधार नंबर पर सरकार ने जारी की बड़ी चेतावनी! जानें क्या है पूरा मामला

know-how-to-change-update-mobile-number-and-e-mail-id-in-aadhaar-card-uidai-changed-the-process-in-india

आधार कार्ड या आधार नंबर आज ​हम इंडियन्स की सबसे पहली और सबसे बड़ी पहचान बन चुका है। भारतीय नागरिक की आइडेन्टटी से जुड़ी लगभग सभी जानकारियां आधार नंबर में ही समाई है। आधार कार्ड अपनी शुरूआत के साथ ही चर्चाओं व विवादों में घिरा रहा है। कुछ लोग जहां इसे सुरक्षित नहीं मानते तो कुछ को यह सेफ लगता है। पिछले दिनों आधार कार्ड से जुड़ी ऐसी बड़ी घटना घटित हुई है जिसके बाद व्यक्ति की निजता पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। इन विवादों के बीच यूआईडीएआई की ओर से कड़ी चेतावनी जारी की गई है कि कोई भी व्य​क्ति इंटरनेट या सोशल साइट पर अपना आधार नंबर शेयर न करें।

यूआईडीएआई यानि भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने साफ-साफ शब्दों में आधार नंबर को आॅनलाईन प्लेटफार्म पर शेयर न करने के लिए कहा है। विभाग ने कहा है कि कोई भी व्यक्ति अपने आधार नंबर या आधार कार्ड के जुड़ी जानकारी को आॅनलाईन प्लेटफार्म पर शेयर न करे। आधार की सर्वेसर्वा ईकाई यूआईडीएआई ने कहा है कि आधार नंबर सार्व​जनिक करने वाले या ऐसा करने के लिए उकसाने वाले के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। विभाग ने चेतावनी देते हुए कुछ ही दिनों पहले घटित हुई एक घटना से लोगों को सबक लेने को कहा है।

aadhaar

क्या है मामला

पिछले हफ्ते टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अॅथारिटी आॅफ इंडिया यानि ट्राई के हेड आरएस शर्मा ने अपने ट्वीटर हैंडल पर खुद का आधार नंबर शेयर किया था। आरएस शर्मा ने ऐसा इसलिए किया था, क्यूंकि उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि आधार नंबर पूरी तरह से सुरक्षित है और कोई भी हैकर इसके सर्वर में सेंध नहीं लगा सकता है। शर्मा के इस बयान के बाद लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आने लगी थी।

कुछ यूजर्स ने ट्रोल करते हुए कह दिया कि, ‘यदि आधार इतना सुरक्षित है तो अपना आधार नंबर शेयर करो’। और फिर ट्वीटर पर लोगों से मिले इस चैलेंज को एक्सेप्ट करते हुए आरएस शर्मा ने ट्वीट में अपना आधार नंबर शेयर कर दिया।

4जीबी रैम और डुअल कैमरा के साथ लॉन्च हुआ सैमसंग गैलेक्सी आॅन8, 6 अगस्त से फ्लिपकार्ट पर होगी सेल

शर्मा द्वारा आधार नंबर शेयर किए जाने के कुछ ही देर बाद उनके ही ​ट्वीटर अकाउंट पर लोग उनकी निजी डिटेल पोस्ट करने लगे। लोगों ने आरएस शर्मा का फोन नंबर, उनके घर का एड्रेस, उनका व्हाट्सऐप नंबर, शर्मा द्वारा यूज़ किया जा रहा फोन मॉडल तथा साथ ही उनकी व्हाट्सऐप पर लगी प्रोफाइल फोटो भी ट्वीटर पर शेयर कर दी।

सिलसिला यहीं नहीं थमा। लोगों ने शर्मा की बैंक डिटेल, उनका अकाउंट नंबर तथा पासपोर्ट नंबर तक उन्हें ट्वीट कर दिया। हद तो तब हो गई जब लोग उनके अकाउंट में पैसे भी डालने लगे। कुछ यूजर्स ने आरएस शर्मा के अकाउंट में 1 रुपया ट्रांसफर किया। ​ट्वीटर पर घटे इस वाक्ये के बाद शर्मा जी को यह तो मानना ही पड़ा कि आधार नंबर इतना ​भी सुरक्षित नहीं जितना वह बता रहे थे वहीं दूसरी ओर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है।

एक्सक्लूसिव : ये रही ओपो एफ9 प्रो की फुल स्पेसिफिकेशन्स, दमदार रैम के साथ है पावरफुल कैमरा

वहीं यूआईडीएआई आरएस शर्मा के खिलाफ कोई कदम उठाएगी या नहीं इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है। आपको बता दें कि जब आधार की शुरूआत हुई थी तब इस विभाग (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के पहले डायरेक्टर जनरल आरएस शर्मा ही थे।