15 मई के बाद WhatsApp में होंगे ये बड़े बदलाव, Privacy Policy ना मानने पर ​होगा भारी नुकसान

WhatsApp will not limit features and services for not accepting new privacy policy

WhatsApp ने नया साल शुरू होने के कुछ ही दिनों बाद बता दिया था कि कंपनी इंडिया में अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी लाने वाली है। जनवरी की शुरूआत में ही कंपनी ने अपने सभी आधिकारिक प्लेटफॉर्म के साथ ही ऐप के स्टेटस सेक्शन में भी नई ‘टर्म एंड कंडिशन’ की नोटिफिकेशन जारी कर दी थी। यह नई WhatsApp Terms and Privacy Policy अगले सोमवार यानी 15 मई से लागू हो जाएगी। 15 मई से व्हाट्सऐप के यूज़ में बड़े बदलाव आने वाले हैं। लोगों में डर और डाउट के साथ सवाल है कि आखिर 15 मई के बाद उनके WhatsApp में क्या होगा। व्हाट्सऐप चलेगा भी या नहीं। और चलेगा तो क्या उसके लिए पैसे देने होंगे। यूजर्स के इन्हीं सवालों के जवाब देते हुए हमनें आगे बताया है कि 15 मई 2021 के बाद कितना बदल जाएगा आपका WhatsApp. इससे पहले यदि आप जानना चाहते हैं कि आखिर नई WhatsApp Policy में क्या-क्या शामिल किया गया है, इसके लिए (यहां क्लिक करें) और पॉलिसी एक्सेप्ट करने के बाद कितना बदल जाएगा आपका व्हाट्सऐप, इसकी जानकारी के लिए (यहां क्लिक करें)

15 मई को बंद नहीं होगा WhatsApp अकाउंट

सबसे पहले तो आपको बता दें कि नई WhatsApp Privacy Policy पहले 8 फरवरी से लागू होने वाली थी, लेकिन फिर इस तारीख को आगे बढ़ा दिया था। लेकिन इस बार कंपनी इस तारीख को और आगे टालने जाने के मूड बिल्कुल नहीं है। यह नई पॉलिसी 15 मई से लागू हो जाएगी। लेकिन राहत की खबर यह है कि नई पॉलिसी लागू होने के बाद कंपनी तुरंत ही उन लोगों के अकाउंट बंद नहीं करेगी जिन्होंने ‘टर्म एंड कंडिशन’ को नहीं माना है। कंपनी ऐसे यूजर्स को थोड़ा सा और वक्त देगी।

what happens when whatsapp terms and privacy policy updates take effect after 15 may

वक्त की मोहलत तो मिलेगी लेकिन बचेगा कोई नहीं

WhatsApp ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी पर सख्त रवैया अपनाते हुए बता दिया है कि यह पॉलिसी हर एक यूजर को कबूल करनी ही होगी। 15 मई तक जो यूजर इसे ऐक्सेप्ट नहीं करेंगे, उनके पास कंपनी कुछ सप्ताह पर नोटिफिकेशन्स भेजेगी। जो लोग इसे एग्री करने में ज्यादा ढिलाई बरतेंगे, कंपनी उन्हें धीरे धीरे नोटिफिकेशन भेजना भी बंद कर देगी और फिर एक वक्त के बाद ऐसे यूजर्स के अकाउंट पर कंपनी द्वारा WhatsApp की सर्विसेज को लिमिटेड कर दिया जाएगा। यह भी पढ़ें : WhatsApp का नया फीचर चैटिंग को बना देगा मजेदार, मैसेज टाइप करते ही दिखाई देंगे स्टीकर्स

नहीं भेज पाएंगे मैसेज

WhatsApp Privacy Policy को ऐक्सेप्ट करने वाले यूजर्स का अकांउट कंपनी द्वारा लिमिटेड कर दिया जाएगा। इसके तहत यूजर्स अपनी ऐप में चैट लिस्ट को एक्सेस नहीं कर पाएंगे। इसका मतलब चैट लिस्ट उपलब्ध न होने की वजह से व्हाट्सऐप यूजर्स किसी को मैसेज भी नहीं भेज पाएंगे। इसी तरह चैट लिस्ट एक्सेस न होने की वजह से न ही कोई कॉन्टेक्ट दिख सकेगा और न ही किसी को वॉयस कॉल या वीडियो कॉल की जा सकेगी। यानी व्हाट्सऐप अपनी सर्विसेज को तो पेड नहीं करेगी लेकिन सर्विसेज के मामले मेंइसकी कंडिशन न मानने वाले यूजर कंगाल हो जाएंगे।

what happens when whatsapp terms and privacy policy updates take effect after 15 may

मैसेज रिसीव करने का मिलेगा ऑप्शन

व्हाट्सऐप प्राइवेसी पॉलिसी एग्री न करने वाले यूजर्स को चैट लिस्ट एक्सेस तो नहीं मिलेगा लेकिन ऐसे यूजर्स को कोई मैसेज भेजेगा तो इनके व्हाट्सऐप नोटिफिकेशन में उसे देखा जा सकेगा। नोटिफिकेशन के जरिये उस मैसेज को पढ़ा जा सकेगा और उसका रिप्लाई भी किया जा सकेगा। इसी तरह कोई वॉयस/वीडिया कॉल करेगा तो उसे भी रिसीव किया जा सकेगा। यह भी पढ़ें : WhatsApp पर आ रहे हैं 5 बेहद खास फीचर, बदल जाएगा चैटिंग का तरीका

समय सीमा के बाद बंद हो जाएंगी सभी सर्विस

मैसेज व कॉल रिसीव करने की छूट देने के कुछ समय बाद WhatsApp की ओर से ये लिमिटेड सर्विसेज भी पूरी तरह से बंद कर दी जाएगी। व्हाट्सऐप यूजर न तो कॉल रिसीव कर पाएंगे और न ही किसी के भेजे गए मैसेज को पढ़कर उसका जवाब दे पाएंगे। यानी एक वक्त के बाद व्हाट्सऐप पूरी तरह से बंद हो जाएगी।

तो यहां साफ है कि यदि WhatsApp को चलाना है तो ऐप की नई Privacy Policy 2021 को ऐक्सेप्ट करना ही होगा और सभी टर्म एंड कंडिशन को स्वीकार करना ही होगा।

2 COMMENTS

  1. Whats app user ko company privacy k malme me dabaw nhi bna skti.
    Company jyada users ko pareshan karegi to online app or v user whatsApp delete krke kisi v dusre app ko use krna suru kr degi

LEAVE A REPLY