व्हाट्सऐप पर बने पोर्न ग्रुप का एडमिन गिरफ्तार, मुबंई पुलिस ने धरा

whatsapp will not support in these old android smartphone apple ios iphone from 1 november

व्हाट्सऐप इन दिनों किसी भी मीडिया कंटेंट को सबसे तेज और ज्यादा से ज्यादा से लोगों को मैसेज के जरिये भेजने को सरल साधन बना हुआ है। टेक्स्ट मैसेज के साथ ही फोटो, वीडियो, आॅडियो, जीफ व पीडीएफ जैसी फाइल्स व्हाट्सऐप पर बेहद ही आसानी से बिना किसी अतिरिक्त चार्ज के भेजी जाती है। पसर्नल चैट के साथ ही व्हाट्सऐप ग्रुप्स एक ही जगह अनेंको लोगों तक मैसेज पहुॅंचाने का काम करते हैं। लेकिन इस बात को भी नहीं नकारा जा सकता है कि इस तरह के ग्रुप्स में पोर्न कंटेंट यानि अश्लील सामग्री भी परोसी जाती हैं। व्हाट्सऐप से जुड़ा एक ऐसा ही सनसनीखेज मामला सामने आया है जिसमें मुंबई में रह रहे युवक को पोर्न ग्रुप का ए​डमिन होने की वजह से गिरफ्तार किया गया है।

मुंबई पुलिस ने व्हाट्सऐप पर अश्लील कंटेंट शेयर करने के जुर्म में एक 24 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है। यह युवक मुंबई के धारावी ईलाके का रहने वाला है जिसका नाम मुश्ताक अली शेख है। यह युवक एक ऐसे व्हाट्सऐप ग्रुप का एडमिन है जिसका नाम ‘Triple XXX’ है। इस युवक पर व्हाट्सऐप ग्रुप के जरिये पोर्न कंटेंट / अश्लील सामग्री शेयर करने का आरोप है जिनमें नंगी फोटोज़ और अश्लील वीडियोज़ शामिल हैं।

whatsapp-porn-group-admin-arrested-in-mumbai-for-adding-a-woman in hindi

व्हाट्सऐप ग्रुप ए​डमिन को मु​बंई पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर पकड़ा है। महिला ने पुलिस में शिकायत लिखवाई थी कि उन्हें एक व्हाट्सऐप ग्रुप में शामिल किया गया था जिसका नाम ‘Triple XXX’ था। महिला के अनुसार शुरू में तो उन्हें लगा कि शायद उनके ही किसी मित्र ने मजाक करने के लिए किसी ग्रुप का ऐसा नाम रखा है। लेकिन जब उस ग्रुप में न्यूड फोटो व पोर्न वीडियो शेयर होने लगी तो उन्हें यह असहज लगा।

जियो दे रहा है फ्री में 8जीबी 4जी डाटा, जानें कैसे अपने नंबर पर पाएं यह मुफ्त का फायदा अभी

पोर्न कंटेंट ग्रुप में आने पर महिला ने देखा कि उस ग्रुप में उनके अलावा 12 और लोग शामिल थे। ग्रुप एडमिन समेत इन सभी 12 लोगों का नंबर उस महिला के पास सेव नहीं था और न ही वह महिला उनमें से किसी को जानती थी। ऐसे में महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी। बीते गुरुवार पुलिस ने ग्रुप एडमिन मुश्ताक अली शेख को गिरफ्तार कर लिया। तफ्तीश के दौरान मुश्ताक ने सफाई दी है कि उन्होनें उस महिला को अपना रिश्तेदार समझ कर ग्रुप में एड किया था व उन्हें नहीं पता ​था कि वह नंबर उस महिला है।

भारत में लॉन्च हुआ हुआवई मेट सीरीज़ का आगाज़, 8जीबी रैम वाले इस फोन की स्पेसिफिकेशन्स पढ़ कर रह जाएंगे दंग

व्हाट्सऐप ग्रुप ए​डमिन ने सफाई दी है कि उन्हें यह भी नहीं पता कि उनके फोन में उस महिला का नंबर कैसे आया। बहरहाल इस मामले की गुत्थी तो पुलिस सुलझा लेगी लेकिन इस वाकये ने एक बार फिर भारत में पोर्नोग्राफी तथा व्हाट्सऐप के नियमों पर सवाल खड़े कर दिए हैं। आपको बता दें कि मुश्ताक का फोन डाटा निकालने के लिए लैब में भेज दिया गया है और आरोप सिद्ध होने पर व्हाट्सऐप ग्रुप ए​डमिन को आईटी एक्स, 2000 के तहत 5 साल की जेल होगी। वहीं ऐसी ही कोई गलती दुबारा होती है तो ग्रुप एडमिन को 7 साल की जेल और 10,00,000 रुपये का जुर्माना लगाए जाने को प्रावधान है।