5G सर्विस से अभी लोगों को क्यों नहीं है ज्यादा उम्मीद, जानें 5 कारण

why-people-are-not-expecting-much-from-5g-service-know-5-reasons

भारत में 5G सर्विस के ट्रायल की इजाजत मिल गई है और रिलायंस Jio, Airtel, VOdafone-Idea और MTNL जैसी मोबाइल ऑपरेटर्स ने इसकी टेस्टिंग भी शुरू कर दी है। आशा है कि अगले 6 महीने या फिर नए साल के शुरुआत में ही 5G सर्विस भारत में आम लोगों के लिए उपलब्ध हो जाएगी। हालांकि इस सर्विस की आहट से ही जहां कुछ लोग खुश नजर आ रहे हैं, वहीं कई लोग लगातार सोशल मीडिया पर 5G सर्विस को लेकर अपनी निराशा जाहिर कर रहे हैं। ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि आखिर ऐसा क्यों है जो लोग सुपर फास्ट डाटा स्पीड वाले 5G नेटवर्क की शिकायत करते नजर आ रहे हैं? तो बता दूं कि इसके पीछे कई करण और ऐसे ही 5 कारण का हमने आगे जिक्र किया है।

1 भारत में सुपर स्लो है डाटा ऐसे में नहीं है 5G से आशा

5g in india 5gi technology what is difference
5G vs 5Gi

हाल में Ookla ने अपनी एक रिपोर्ट पेश की थी जिसमें भारत मोबाइल इंटरनेट स्पीड में पाकिस्तान और नेपाल जैसे देशों से पीछे रहा। 137 देशों पर किए गए इस सर्वे में भारत को 122वां स्थान मिला है। भारत में 3G हो या फिर 4G अब तक लोग इसकी स्पीड का मज़ नहीं ले पाए हैं। 3G की HSDPA सर्विस में ही अधिकतम मोबाइल डाटा स्पीड 42mbps का पाया जा सकता है। वहीं 4G स्पीड 100mbps से ऊपर की है। भारत में 3G पर जहां 2 से 4mbps की स्पीड मिलती थी वहीं 4G पर लोग औसतन 10mbps से ज्यादा नहीं पा रहे हैं। ऐसे में अगर 5G सर्विस आती भी तो लोगो ने इसकी स्पीड से उम्मीद कम ही रखा है। इसे भी पढ़ेंः क्या Jio Phone Next साबित होगा सुपर फोन, जाने क्यों

देखें लेटेस्ट वीडियोः JioPhone Next Launch-Price, Specifications & Features in India

2 महांगी होगी सर्विस

फिलहाल हम विश्व में सबसे सस्ते मोबाइल सर्विस का लाभ ले रहे हैं। पिछले कुछ सालों में आप देखेंगे तो किसी न किसी बहाने मोबाइल कंपनियों ने सेवा शुल्क में बढ़ोतरी की है। पहले जहां जियो और एयरटेल के 84 दिनों वाले प्लान 400 रुपये से नीचे में उपलब्ध थे वहीं अब इसके लिए 600 रुपये के आसपास चुनाने होते हैं। ऐसे में आशा तो की ही जा रही है कि 5G सर्विस जब लॉन्च होगी तो कंपनियां डाटा शुल्क को और महंगा करेंगी। इसे भी पढ़ेंः Apple iPhone 13 लाइनअप में दिया जा सकता है 25W चार्जिंग स्पीड

3 5G में हो गई है देरी

विश्व भर में 50 से ज्यादा देशों में 5G सर्विस का आगाज़ हो गया है जबकि भारत में अब भी हम सिर्फ ट्रायल कर रहे हैं। भारत में 2022 से पहले 5G सर्विस आने की उम्मीद नहीं है और अगर आती भी है तो शुरुआत कुछ बड़े शहरों से ही होगी छोटे शहर और गांवों में इसके लिए काफी लंबा समय लग जाएगा। ऐसे में यह कहना जायज है कि 5G में हम देर कर चुके हैं। इसे भी पढ़ेंः ये रहे 300 रुपए से कम कीमत वाले Jio के प्लान, डाटा और कॉलिंग की नहीं होगी कमी

देखें लेटेस्ट वीडियोः Poco F3 GT Camera Test

4 थोड़ा डर अब भी है

5जी सर्विस को लेकर पिछले कुछ सालों से काफी अफवाहें आ रही थीं जिसमें पक्षियों को मरने से लेकर, इंसानों में बिमारी और ऑक्सिजन की कमी जैसी बातें शामिल हैं। हालांकि इसका कोई वैज्ञानिक तथ्य नहीं मिला है लेकिन इस अफवाह का डर अब तक लोगों में व्याप्त है। हां रेडियेशन की बात वैज्ञानिकों ने भी मानी है और उसका थोड़ा डर तो है।

5 अब भी आधी आबादी है 2G पे

Nokia 110 4G feature phone launched in India with Volte support price rs 2799 vs JioPhone

भले ही हम 5जी की बात कर रहे हैं लेकिन अब भी भारत में लगभग आधे मोबाइल यूजर 2जी सर्विस का उपयोग कर रहे हैं। हालांकि रिलायंस ने बेहद ही सस्ते बजट में जियो फोन लॉन्च कर बड़ी आबादी को 4G सर्विस से जोड़ दिया लेकिन वो भी कीपैड वाला फीचर फोन है। इसके अलावा अब भी 2G यूजर्स की संख्या बड़ी है। ऐसे में उन लोगों के लिए 5G की बातें करना फिलहाल बेईमानी ही है।

LEAVE A REPLY