Xiaomi ने ऑफलाइन रिटेलर्स को दी आधी खुशी आधा ग़म, जानें कैसे?

Xiaomi Mi Community Video Call chinese app ban india with tiktok shareit

Xiaomi इस बात को भली-भांती जानता है कि उसे कैसे चर्चा में बने रहना है। कंपनी कभी अपनी अग्रेसिव प्रोडक्ट पोर्टफोलियो की वजह से लोगों के ज़ुबान पर शुमार रहती है तो कभी अपने ऑनलाइन और ऑफलाइन रणनीति की वजह से। आज एक बार फिर से कंपनी की कुछ ऐसी ही रणनीति की वजह से हम उसकी चर्चा करने जा रहे हैं। कंपनी ने कुछ ऐसा किया है जिससे कि भारत में Xiaomi फोन के ऑफलाइन रिटेर्ल जिन्हें ‘प्रिफर्ड पार्टनर’ के नाम से जाना जाता है को थोड़ी खुशी तो मिली है लेकिन अब भी थोड़ा ग़म बाकी है।

क्या है खुशी
xiaomi-wall
तो सबसे पहले खुशी का जिक्र करते हैं। शाओमी ने भारतीय बाजार में ऑनलाइन चैनल के माध्यम से अपने बिज़नेस की शुरुआत की थी और बाद में कंपनी ने ऑफलाइन में कदम रखा। हालांकि जब ऑफलाइन में आया तो न सिर्फ फोन रिटेलर्स के देर से मिलते थे बल्कि कीमत भी ऑनलाइन के मुकाबले ऑफलाइन में ज्यादा थी। इस बात का रोष ऑफलाइन रिटेलर्स को काफी था। सबसे ज्यादा तकलीफ़ रिटेलर्स को इस बात की थी कि उनके बगल में खुलने वाले कंपनी के Mi Home स्टोर पर भी 500 रुपये सस्ता फोन मिलता था जो कि ऑफलाइन चैनल में आता है। इसे भी पढ़ें: Jio Phone यूजर्स के लिए खुशखबरी, व्हाट्सऐप का यह पॉपुलर फीचर कर पाएंगे इस्तेमाल

परंतु 2020 में कंपनी ने अपनी इस रणनीति में बदलाव किया और अब ऑनलाइन, ऑफलाइन और मी होम तीनों जगहों पर समान कीमत में उसके फोन उपलब्ध हैं। इस बारे में गुजरात के एक मोबाइल रिटेलर जो शाओमी प्रीफर्ड पार्टनर भी हैं का कहना कि ”समान प्राइस होने की वजह हमें काफी राहत मिली है अब हम भी ऑनलाइन और MI Home के समान प्राइस और समान ऑफर के साथ शओमी फोन को बेच पाते हैं।”

वहीं दिल्ली के भी एक शाओमी प्रीफर्ड पार्टनर ने कुछ ऐसी ही बात कही। उनका कहना था कि ”भारत में अगर प्राइस में 50 रुपये का भी अंतर हो तो ग्राहक दूसरे शॉप से मोबाइल लेना पसंद करते हैं और पहले ऑनलाइन और ऑफलाइन में 500 रुपये का बड़ा अंतर था, तो आप सोच सकते हैं क्या स्थिती होगी। लोग ऑफलाइन में फोन देख कर ऑनलाइन से ऑर्डर करते थे और हमें इस बात का बड़ा मलाल होता था। परंतु अब कीमत एक समान होने से काफी फायदा हुआ है।” इसे भी पढ़ें: एक खास सेंसर के साथ लॉन्च हुआ यह 5G फोन, बिना कॉन्टैक्ट के बताएगा आपका बॉडी टेम्परेचर

क्या है ग़म
xiaomi-lose-offline-market-share-here-is-7-big-reasons
खुशी के बाद जब हम ग़म की बात करें तो वह है डिवाइस की उपलब्धता। ऑफलइन रिटेलर्स में जहां एक ओर इस बात की खुशी है कि डिवाइस के प्राइस समान हो गए हैं लेकिन दूसरी ओर इस बात को लेकर रोष है कि अब भी नए मॉडल ऑफलाइन स्टोर पर जल्दी नहीं दिए जाते और ऑनलाइन व Mi Home से बेचे जाते हैं। इस बारे में दिल्ली के शाओमी प्रीफर्ड पार्टनर का कहना है कि ”आपको यह जानकर हैरानी होगी कि Xiaomi Redmi Note 8 को लॉन्च हुए 6 महीने से भी ज्यादा का वक्त हो गया है लेकिन अब भी वह डिवाइस भरपूर मात्रा अर्थात जितना डिमांड है उतना ऑफलाइन में नहीं मिला रहा है। आप कह सकते हैं कि लॉकडाउन की वजह से हाल के कुछ महीनों में फोन के उपलब्धता में बाधा आई है लेकिन लॉन्च के कुछ महीनों तक को हमें महीने में 3-4 डिवाइस दिए जाते थे। वहीं अब महीने में कंपनी 8-10 डिवाइस देती है बस।”

वहीं गुजरात के शाओमी प्रीफर्ड पार्टनर ने भी इस बात पर मुहर लगाई और कहा कि ”यह सही है। नए फोन जिनका डिमांड ज्यादा होता है वह जल्दी ऑफलाइन स्टोर पर नहीं दिए जाते और पुराने मॉडल भर दिए जाते हैं।। Redmi Note 9 Pro को लॉन्च हुए भी काफी समय हो गया है लेकिन वह ऑफलाइन में अब तक उपलब्ध नहीं हुआ है। कंपनी से आप बात करेंगे तो कहेगी कि कोरोनो लॉकडाउन की वजह से समस्या आ रही है। परंतु समस्या है तो फिर ऑनलाइन में कैसे बिक रहा है? दोनों जगह फोन उपलब्ध नहीं होने चाहिए।” इसे भी पढ़ें: Exclusive: इंडिया में जल्द लॉन्च होंगे Vivo Y50 और Y30 धांसू फोन, कीमत 20 हजार से भी होगी कम

xiaomi-logo
इस बारे में जब हमने Xiaomi से बात की तो कंपनी का कहना था कि ”Xiaomi India अपने सभी प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन और ऑफलाइन चैनलों पर समान रुप से मुहैया कराती है। हाल में भारत में Covid-19 के कारण एक अभूतपूर्व लॉकडाउन देखा है। इस दौरान हमने ऑनलाइन और ऑफलाइन में अपने प्रोडक्ट्स की काफी मांग देखी है। हालांकि जैसे-जैसे प्रतिबंधित में छूट मिल रही है वैसे-वैसे हम स्मार्टफ़ोन, टीवी, पावरबैंक आदि की मैन्यूूफैक्चरिंग सुविधा को बढ़ा रहे हैं। लॉकडाउन में छूट मिलने के साथ ही हमने पूरे देश में ऑफलाइन और ऑनलाइन चैनल में सेल्स फिर से शुरू कर दिया है। रिटेलर्स और डिस्ट्रीब्यूटर्स की सप्लाई भी शुरू कर दी गई है। हमने अपने सप्लाई चेन और लॉजिस्टिक को भी बढ़ा दिया है जिससे कि दूर दराज़ मौजूद अपने पार्टनर तक भी पहुंच सकें। इससे कहीं आगे बढ़ते हुए और ऑफलाइन रिटेलर्स को प्रोत्साहन देने व उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हमने ‘Mi Commerce’ सर्विस लॉन्च की है। यह ऑफलाइन टू ऑनलाइन सर्विस जिसके माध्यम से यूजर्स अपने नज़दीकी स्टाेर्स से फोन खरीद सकते हैं और होम डिलीवरी पा सकते हैं”

कंपनी ने अपनी ओर से बातें तो रखी हैं रिटेलर्स की बातें भी गलत नहीं कह सकते। कंपनी ने कोरोना को वजह तो बता दिया लेकिन नए फोन के ऑफलाइन में देर से उपलब्ध होने के बारे में कोई बयान नहीं दिया। रेडमी नोट 8 जो कि पुराना मॉडल है वह भी अब तक रिटेल स्टोर पर बहुत कम मात्रा में उपलब्ध है। यदि फोन की मात्रा कम है तो फिर कम मात्रा दोनों जगह होनी चाहिए।

इस तरह लाकडाउनल के दौरान शाओमी प्रीफर्ड पार्टनर ने कंपनी को लेकर अपनी खुशी और ग़म दोनों जाहिर की। हालांकि यहां एक बात तो कहना बनता है कि जहां पहले चारों ओर से ऑफलाइन रिटेलर्स के लिए माहौल अनुकूल नहीं था, न ही समय पर फोन मिलते थे और नहीं समान कीमत थी। वहीं अब समान प्राइस होने की वजह से कुछ राहत तो जरूर मिली है और आशा है कि चीजें आगे और बेहतर होंगी।

LEAVE A REPLY