शाओमी की वजह से मीडियाटेक को लग सकता है बड़ा झटका, जानें क्या है पूरा मामला

शाओमी मुख्य रूप से क्वालकॉम चिपसेट आधारित फोन को लॉन्च करता है। परंतु कंपनी रह सह कर मीडियाटेक चिपसेट आधारित फोन भी पेश करती है जो अब तक ज्यादातर चीन में ही लॉन्च हुए हैं। वहीं पिछले साल शाओमी द्वारा दो मीडियाटेक चिपसेट आधारित फोन भारत में भी लॉन्च किए गए और इन्हें भी लोगों ने काफी सराहा। वहीं हाल में एक खबर आई जो मीडियाटेक के लिए बहुत अच्छी नहीं कही जा सकती है। बल्कि खबर यदि सही है तो मीडियाटेक को बड़ा झटका लग सकता है। एम चीनी मीडिया के अनुसार कुछ कारणों की वजह से शाओमी ने मीडियाटेक से चिपसेट सप्लाई पर रोक लगा दी है।

परंतु इस खबर के आते ही मीडियाटेक ने तुरंत एक बयान जारी किया है जिसमें कंपनी ने इस खबर का झूठा बताया है। कंपनी ने कहा है कि ‘शाओमी द्वारा मीडियाटेक की बर्खास्तगी की खबर पूरी तरह से बेबुनियाद है।’ कंपनी ने आगे बयान जारी करते हुए कहा कि ‘लिआन्फा टेक्नोलॉजी का शाओमी के साथ अच्छा रिलेशनशिप है जो बेहतर तरीके से चल रहा है। वहीं स्पलाइट को लेकर भी किसी तरह की कोई खींचतान नहीं है। मीडियाटेक हमेशा से ही नई तकनीक को अपनाता आया है और कंपनी बिना कस्टमर के हितों के साथ समझौता किए इसे बेस्ट क्वालिटी प्रोडक्ट देने पर विश्वास रखती है।’ नोकिया 8.1 प्लस नहीं, नोकिया 6.2 नाम से लॉन्च होगा कंपनी का लेटेस्ट फोन
mediateklogo
मीडियाटेक और शाओमी के रिश्तों में खटास की यह खबर हाल में चीन में लॉन्च शाओमी प्ले फोन के बाद आई है। शाओमी प्ले फोन को कंपनी ने मीडियाटेक हेलियो पी35 चिपसेट पर पेश किया है जो 12 नैनो मीटर फैब्रिकेशन पर बना है। यह फोन अधिक्तम 2.3गीगाहट्ज तक का क्लॉक स्पीड वाला है जो कि बहुत ही ताकतवर माना जाता है। बावजूद इसके एनटूटू बेंच मार्क पर यह चिपसेट सिर्फ 86352 तक का स्कोर करने में सफल रहा जो कि क्वालकॉम के पुराने चिपसेट स्नैपड्रैगन 625 से थोड़ा ही ज्यादा है। जबकि कंपनी ने इसे गेमिंग फोन कहा है। यही वजह है कि शाओमी और मीडियाटेक के रिश्ते में खटास शुरू हो गई। शाओमी का पहला 5जी फोन 24 फरवरी को होगा लॉन्च, 10जीबी रैम के साथ चलेगा दुनिया के सबसे तेज चिपसेट पर

मीडिया में खबर वायरल होने के साथ ही कंपनी ने बिन देर किए बयान जारी कर इस मामले को शांत करने की कोशिश की है। वहीं इस बारे में 91मोबाइल्स ने भी मीडियाटेक को संपर्क किया तो उन्होंने जानकारी दी है कि यह खबर पूरी तरह से गलत है। खबर मिलते ही हमनें एक स्टेटमेंट दे दिया। ​बल्कि हमारी शाओमी के साथ आगे कि प्रोजेक्ट पर बात हो रही है।

इस बारे में हमने शाओमी से भी बात की लेकिन कंपनी का जवाब अभी नहीं आया है। जैसे ही आता है हम आपको जरूर अपडेट करेंगे।

मीडिया कभी नहीं चाहेगा कि शाओमी जैसे ब्रांड के साथ रिश्ता खराब हो। क्योंकि लगातार मीडियाटे के गिरते साख के बाद शाओमी ने रेडमी 6ए और रेडमी 6 जैसे मॉडल लॉन्च कर कंपनी को बड़ा सहारा दिया था।